• Phone : 0612-2205482/2218259/ Email : info@bssta.org
  • प्रशिक्षण सत्र 2015-17 में प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके शिक्षकों के वेतन भुगतान के संबंध में। | बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के प्राथमिक सदस्य बनन के संबंध में महासचिव का सभी जिला/प्रमंडल सचिव को पत्र। | राज्य के सभी कोटि के शिक्षकों को सातवें वेतन आयोग द्वारा अनुशंसित पे-मैट्रिक्स लागू करने के संबंध में प्रेस विज्ञप्ति। | वित्तीय वर्ष 2017-18 में राशि की निकासी हेतु शिथिलीकरण के सम्बंध में। | वित्तीय वर्ष 2017-18 में सहायक अनुदान की राशि की निकासी हेतु शिथिलीकरण के सम्बंध में। |

    Latest Update

  • अप्रशिक्षित नियोजित शिक्षकों को प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध कराने हेतु संस्थानों का निर्धारण करने के संबंध में।
  • बाढ़ पीड़ित के सहायतार्थ मुख्यमंत्री राहत कोष में एक दिन का वेतन देने के संबंध में सभी प्रमंडलीय/जिला सचिवों को बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ का पत्र।
  • बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षा से संबंधित सभी परीक्षाओं को बाढ़ की स्थिति बरकरार रहने तक स्थगित करने के संबंध में निदेशक, माध्यमिक शिक्षा, शिक्षा विभाग का परिपत्र।
  • सेवा शर्त निर्धारण के संबंध में बिहार सरकार को श्री शत्रुघ्न प्रसाद सिंह, महासचिव, बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ का पत्र।
  • प्राच्य प्रभा

    प्राच्य प्रभा

    प्राच्य प्रभा का मई 2017 का अंक उपलब्ध है, आप ऑन लाईन भी पढ़ सकते हैं।

    Read More
    हमारे बारे में

    हमारे बारे में

    18वीं शताब्दी के उत्तरार्द्ध में दुनिया के मजदूरों ने शोषण से मुक्ति और अपनी न्यायोचित मांगों की पूर्ति के लिए श्रमिक संघ की स्थापना की।

    Read More
    हमारी गतिविधि

    हमारी गतिविधि

    चम्पारण सत्याग्रह के सौ साल

    Read More

    बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ : परिचय

    18वीं शताब्दी के उत्तरार्द्ध में दुनिया के मजदूरों ने शोषण से मुक्ति और अपनी न्यायोचित मांगों की पूर्ति के लिए श्रमिक संघ की स्थापना की। अपनी संघीय शक्ति से तात्कालीन सत्ता को चुनौती दी और शोषण एवं दमन से मुक्ति पायी। श्रमिक संघ की इस ऐतिहासिक पहल का व्यापक असर हुआ और इसी की प्रेरणा से बिहार राज्य के माध्यमिक शिक्षक, जो निजी व्यवस्था के शोषण का दंश झेल रहे थे, 21 जनवरी, 1925 को ‘बिहार एण्ड उड़ीसा सेकेण्ड्री टीचर्स ऐसासिएशन’ की स्थापना की। उल्लेखनीय है कि उस वक्त उड़ीसा भी बिहार का हिस्सा हुआ करता था। वर्ष 1935 में उड़ीसा राज्य के अस्तित्व में आने के बाद इस संगठन का नाम ‘बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ’ हुआ।

    Continue Reading...>>

    buy discount klonopin online http://www.buysomaonline.org/ http://cheapviagrameds.com/ http://tramadoltobuy.com/

    Enquiry Now

    Photo Gallery